Tuesday, 27 September 2016

विवाह के सात वचन दो जीवन के एक होने के सात वादे SAAT PHERO KE SAATO VACHAN IN HINDI विवाह के साथ एक नए जीवन का आरम्भ होता है, हिन्दू धर्म के 16 संस्कारों में विवाह को भी स्थान दिया गया है. और इनमें से हर संस्कार आज भी प्रासंगिक है. हिन्दू विवाह पद्धति में सात फेरे और सात वचन होते हैं. अगर इन सातों वचनों को जीवन भर निभाया जाए, तो वैवाहिक जीवन हमेशा सुखमय रहेगा. दूल्हा और दुल्हन विवाह के समय एक-दूसरे से सात वचन लेते हैं. ज्यादातर लोगों ने सात फेरों के बारे में सुना तो है, लेकिन इन सात फेरों को कम हीं लोग जानते हैं. तो आइए जानते हैं वो सात वचन कौन-कौन से हैं. हिन्दू विवाह के सात वचन : 1. तीर्थव्रतोद्यापन यज्ञकर्म मया सहैव प्रियवयं कुर्या: वामांगमायामि तदा त्वदीयं ब्रवीति वाक्यं प्रथमं कुमारी – कन्या वर से कहती है कि यदि आप कभी तीर्थ यात्रा में जाएँ, या कोई व्रत इत्यादि करें अथवा कोई भी धार्मिक कार्य करें तो मुझे अपने बाएँ भाग में जरुर स्थान दें. यदि आप ऐसा करने का वचन देते हैं तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 2. पुज्यो यथा स्वौ पितरौ ममापि तथेशभक्तो निजकर्म कुर्या: वामांगमायामि तदा त्वदीयं ब्रवीति कन्या वचनं द्वितीयम – दूसरे वचन में कन्या वर से वचन मांगती है कि जिस प्रकार आप अपने माता-पिता का सम्मान करते हैं, उसी प्रकार मेरे माता-पिता का भी सम्मान करें और परिवार की मर्यादा के अनुसार, धार्मिक अनुष्ठान करते हुए भगवान के भक्त बने रहें, यदि आप ऐसा करने का वचन देते हैं, तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 3. जीवनम अवस्थात्रये पालनां कुर्यात वामांगंयामितदा त्वदीयं ब्रवीति कन्या वचनं तृतीयं – तीसरे वचन में कन्या वर से कहती है कि यदि आप जीवन की तीनों अवस्थाओं: युवावस्था, प्रौढ़ावस्था और वृद्धावस्था में मेरा पालन करने का वचन देते हैं. तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 4. कुटुम्बसंपालनसर्वकार्य कर्तु प्रतिज्ञां यदि कातं कुर्या: वामांगमायामि तदा त्वदीयं ब्रवीति कन्या वचनं चतुर्थ: – चौथे वचन में कन्या वर से कहती है कि यदि आप परिवार का पालन-पोषण करने और परिवार के प्रति अपने सारे दायित्वों का पालन करने का वचन देते हैं, तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 5. स्वसद्यकार्ये व्यहारकर्मण्ये व्यये मामापि मन्‍त्रयेथा वामांगमायामि तदा त्वदीयं ब्रूते वच: पंचमत्र कन्या – पांचवें वचन में कन्या वर से कहती है कि यदि आप अपने घर के कामों में, लेन-देन में या किसी दूसरे काम के लिए खर्च करते समय मेरी भी सलाह लेने का वचन देते हैं, तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 6. न मेपमानमं सविधे सखीना द्यूतं न वा दुर्व्यसनं भंजश्वेत वामाम्गमायामि तदा त्वदीयं ब्रवीति कन्या वचनं च षष्ठम – छठे वचन में कन्या वर से कहती है कि यदि मैं अपनी सखियों या अन्य स्‍त्रियों के बीच बैठी रहूँ, तो आप वहाँ सबके सामने मेरा अपमान नहीं करेंगे. आप जुआ या किसी भी प्रकार की बुरी आदतों से खुद को दूर रखेंगे. यदि आप ऐसा करने का वचन देते हैं, तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ. 7. परस्त्रियं मातूसमां समीक्ष्य स्नेहं सदा चेन्मयि कान्त कूर्या वामांगमायामि तदा त्वदीयं ब्रूते वच: सप्तमंत्र कन्या – सातवें वचन में कन्या वर से कहती है कि आप पराई स्त्रियों को माता के समान समझेंगे और पति-पत्नी के प्रेम के बीच में किसी और को नहीं आने देंगे. यदि आप ऐसा करने का वचन देते हैं, तो मैं आपके वामांग में आना स्वीकार करती हूँ.

Today Deal $50 Off : https://goo.gl/efW8Ef

Sunday, 25 September 2016

my big black banana

हर लड़की को Big चाहिए, हर लड़की को Black चाहिए, और हर लड़की को Banana चाहिए!

    रएक लड़की को Big चाहिए, क्योंकि बड़े में ज्यादा मज़ा है.
हरएक लड़की को – चाहे गोरी हो या काली – Black चाहिए, क्योंकि काले में ताक़त ज्यादा होती है.
और हरएक लड़की को Banana चाहिए, क्योंकि केला जब तक लड़की के तीन में से किसी एक छेद में जाता नहीं, तब तक लड़की को जीने का मज़ा आता नहीं.
हर लड़की को अपनी चूत की चुदाई के लिए BigBlackBanana (…मोटा और काला लौड़ा!) की जरूरत होती है.
मेरे इस निष्कर्ष पर एक लम्बी बहस छिड़ी.
झीनो का कहना था की ये कुछ ज्यादा ही विवादास्पद है. मेरा कहना था की मैं विवाद पैदा करना चाहता हूँ क्योंकि विवाद से हमारी वेबसाइट का मार्केटिंग होगा. करीब तीन घंटे की विस्तृत चर्चा के बाद झीनो आखिर में इस शर्त पर BigBlackBanana पर सहमत हुआ कि विवाद को हेन्डल करना मेरी ज़िम्मेदारी रहेगी. मैंने उसकी शर्त को स्वीकार किया और साथ साथ गारंटी भी दी.
तब जाके उसने पूरा प्रोजेक्ट मेरे हवाले किया.
इस तरह के सेक्सी प्रोजेक्ट में, मैंने मेरी व्यक्तिगत रचनात्मकता (…मेरी चोदने की फिलोसोफी.)  का इस्तेमाल करते हुए दो हफ्ते में वेबसाइट को डिजाईन किया, वेबसाइट का कॉन्टेंट लिखा, ब्रा और पेन्टीस के सेंकडों तस्वीरों को वेबसाइट के अनुकूल बनाया, वेबसाइट को लांच किया, और प्रचार की शुरुआत कर दी.
ये BigBlackBanana आप My Name is Johny पर पढ़ रहे हैं.
ब्रा और पेन्टीस (…बूब्स को संभालनेवाला बनियान और चूत को ढकनेवाली चड्डी!)  की सारी तस्वीरें लगभग अश्लील थी. आम तौर पर, ऑफिस में, इन्टरनेट पर अश्लील तस्वीरों को देखना निषिद्ध होता है. मगर मैं खुशनसीब हूँ कि वो मेरा काम है.
कंप्यूटर कीबोर्ड का दाहिना एरो बटन दबाते हुए – मैं, एक के बाद एक, ब्रा और पेन्टीस की तस्वीरों को देख रहा था और अचरज में मेरी आँखें फटी जा रही थी. (…क्योंकि छोटी छोटी ब्रा और पेन्टी पहनी हुई हरएक लड़की लगभग नंगी  थी और इसीवक्त चोदने के लायक थी! )
अचानक, एक तस्वीर आते ही मेरी ऊँगली रुक गई… बहुत छोटी ब्रा और उससे भी छोटी पेन्टी पहनी हुई एक पतली लड़की पर मेरी आँखें जम गई. पतले धागे से बनी उसकी ब्रा इतनो छोटी थी कि उसकी दोनों बूब्स की सिर्फ निप्पल ढँक रही थी. (…अगर ब्रा के धागे टूट जाए तो? ) और उसकी पेन्टी इतनी छोटी थी कि चूत का तीन इंच का हिस्सा ढँक रहा था और साथ साथ इतनी महीन थी कि चूत की गुलाब की पंखडियों जैसी गुलाबी फांकें नज़र आ रही थी. (…कहीं ऐसा तो नहीं ये लौडिया आज  मुझसे हस्तमैथुन करवाएगी!)
वो लगभग नंगी थी. (…मुझे नंगी लड़कियां बहुत अच्छी लगती है.)
उसके जिस्म की सब के सब उभार और गोलाइयां इतनी सेक्सी थी कि मैं छूने के लिए बेताब सा हो उठा और मैंने दो टांगों के बीच में आग सी लग गई. कुछ ही पलों में जैसे मेरे लौड़े में एक जान सी आ गई और हकीकत में मुझे पतलून के अन्दर खड़े हुए मेरे लौड़े को एडजस्ट करके बाहर के उभार को छुपाने के लिए आसपास देखना पड़ा.
ये लड़की मेरे लौड़े पे आ चुकी थी. उसकी चूत की चुदाई जल्दी से जल्दी करनी ही पड़ेगी, वरना ये चूत मुझे पागल कर देगी.  इसके साथ चूत चुदाई की सेक्सी कहानी लिखनी ही पड़ेगी.
मैंने उस तस्वीर को कंप्यूटर स्क्रीन पर बड़ा करके देखा.
उसकी ख़ूबसूरत सूरत कुछ जानी पहचानी लगी, जैसे एक बार आँखों के सामने से गुज़र चुकी हो.
मैंने शायद उसे कहीं देखा है… कहीं न कहीं देखा है… जरूर देखा है…
मैंने अपने सर को खुजाते हुए आँखें बंद करके याद करने की कोशिश शुरू की…
न्यूयॉर्क सीटी की जगहों की कुछ तसवीरें, जहाँ मैंने उसे देखा हो, मेरी आँखों के अन्दर एक फिल्म स्लाइड की तरह एक के बाद एक आने लगी और जाने लगी…
और… एक तस्वीर, एक स्लाइड मेरी आँखों के सामने रुक गई…
तस्वीर में अँधेरा सा था… वो रात का वक़्त था… एक लड़का और एक लड़की का जोड़ा… बंद आँखों में मैंने उसे पहचानने की कोशिश की… धीरे धीरे याद आता गया… धुंधली परतें हटती गई… साफ़ होता गया… वो यही चेहरा था…
लड़की तो यही थी, मगर जो लड़का उसके साथ था वो झीनो था…
वो मेरे बॉस झीनो सुनासी के साथ थी…
अब सब कुछ याद आ गया, साफ़ हो गया.
कुछ हफ़्तों पहले, जब मैं किसी चूत के साथ SOHO पब से बाहर आ रहा था, तब मैंने रास्ते में उसे झीनो के साथ SOHO पब में जाते हुए देखा था.
वो झीनो की गर्लफ्रेन्ड थी… बहुत सारी गर्लफ्रेन्ड्स में से एक थी…
मैं हक्का बक्का रह गया था… हैरान था… बॉस की गर्लफ्रेन्ड पर मैं आशिक हो चूका था, मेरा दिल आ गया था और वो भी बुरी तरह से!!
इस हैरानगी के बीच मेरी आँखें कंप्यूटर की घडी पर पड़ी. पांच बजने की तैयारी में थे.
घर जाने का वक़्त था. कुछ मिनटों में मैंने सबकुछ समेट लिया और ऑफिस के बाहर निकल गया…
रास्ते में, 42nd स्ट्रीट स्टेशन की तरफ जाते हुए मैं उसी के बारे में सोचता रहा. उसका तराशा हुआ सेक्सी बदन मेरे जेहन में समा चूका था, मेरे दिल में उतर चूका था, और मेरी आँखों में बस चूका था. मैं इस तरह से खोया हुआ था, जैसे उसने मेरे अस्तित्व पर कब्ज़ा कर लिया हो. मैं उसे चूमना चाहता था, मैं उसके बूब्स और निप्पल को होंठों से रगड़ना चाहता था, मैं उसकी चूत को चाटना और चुसना चाहता था, और आखिरकार मैं उसे चोदना चाहता था, और वो भी बुरी तरह से.
लेकिन, वो बॉस की गर्लफ्रेन्ड है. उसके पीछे भागने से मेरा जॉब जा सकता है.
नहीं… मैं जॉब खोना नहीं चाहता हूँ. इसलिए नहीं कि मुझे दूसरा जॉब मिल नहीं सकता. मैं जॉब इसलिए नहीं छोड़ना चाहता क्योंकि मुझे झीनो सुनासी एक बॉस के तौर पर अच्छा लगता है. ख़ास तौर पर उसका दृष्टिकोण और स्वाभाव के लिए मुझे आदर है. उसकी दूरदर्शिता मेरे लिए प्रेरणादाई है. जो वो सोचता है, चाहे कितना ही मुश्किल क्यों न हो, करके ही दम लेता है. एक परफेक्ट बिजनेसमैन है. हकीकत में, मैंने अपने आपको उसमें देखा है, अपना प्रतिबिम्ब उसमें देखा है. मैं शायद उसके जैसा हूँ या बनना चाहता हूँ. जैसे कोई सेक्सी कहानी का हीरो!
लेकिन उस लड़की का कामुक बदन, उसे हांसिल करने की लालसा, और उसे चोदने की चाह मुझ पर इस तरह से हावी हो गई कि कोई भी जोखिम उठाने को जी चाहता है. ऐसे जैसे मैं कोई सेक्सी कहानी / सेक्स स्टोरी पैदा करने की कोशिश में था.
उसे अपने जेहन से हटाने की कोशिश में मैं करवटें बदलते हुए रातभर कमरे की छत को तकता रहा.
वैसे देखा जाये तो झीनो भी कौनसा प्रेम का पुजारी है. ठीक है वो मेरा रोल मॉडल है लेकिन पचासों को घुमाता है. उन पचास में से अगर मैं उसकी एक लौंडिया घुमा लूं तो क्या फर्क पड़ता है!
इस ख्याल के साथ बड़ी देर रात के बाद मेरी आँख लगी. लेकिन जब सुबह उठा तो ये सोच लिया था कि मैं उसे मिलने की एक कोशिश जरूर करूंगा.
…और उससे बात करने के लिए मैंने एक योजना भी बना ली है.
ऑफिस में…
मैंने एक बहाना बनाकर झीनो की सेक्रेटरी से उस लड़की का नाम, सेल नंबर, और ईमेल एड्रेस ले लिया.
वो लड़की का नाम नीना बियांको था. वो इटालियन मॉडल थी, मिलान – इटली से कोई प्रोजेक्ट की वजह से अमरीका आई थी!
मैं खुद इटालियन होने की वजह से कुछ ज्यादा ही उत्साहित हो गया क्योंकि मैंने हमेशा अपनी संस्कृति की कोई लड़की से तीव्र प्रेम संबंध बनाने (…बुरी तरह से चोदना!) का ख्वाब देखा था मगर कभी तकदीर ने साथ नहीं दिया. ये मौका मैं हाथ से गवाना नहीं चाहता था.
मैंने उसे इसीवक्त मेसेज भेजना चाहा मगर मैंने अपने आप को रोका क्योंकि सही अल्फाजों से बड़ा फर्क पड़ता है. सोच समझकर भेजा हुआ मेसेज सही तरीके से असर करता है और नतीजा भी अच्छा देता है.
शाम को, जब मैं घर पहुंचा तो मेरा पसंदीदा पास्ता बनाने का मूड नहीं था. बियर के साथ खाने के लिए चाइनिस आर्डर किया.
ये BigBlackBanana आप My Name is Johny पर पढ़ रहे हैं.
उसके बाद, फेसबुक में लॉग इन किया, नीना बियांको को ढूँढने की कोशिश की… और कुछ देर में मिल गयी… ये वही थी जो तस्वीर में थी और उसके एल्बम में भी वही तस्वीर मिली.
मैंने उसे फ्रेन्ड रिक्वेस्ट भेज दी ताकि वो मेरा फोटो देख सके और मेरे बारे में थोडा बहुत जान सके.
फ्रेन्ड रिक्वेस्ट भेजने के बाद मैंने अपने मोबाइल पर टेक्स्ट मेसेज टाइप किया…
“m Johny – your photo gave me  sleepless night – sent u fb frnd reqst  – lyk 2 c u – if u feel lyk  seein me – lemme kno – waiting bebe… “
मेसेज को मैंने तीन बार पढ़ा – लगा कि ठीक था – मैंने SEND बटन दबा दिया.
कुछ पलों के लिए मैं सेल फ़ोन को ये सोचते हुए देखता रहा कि असर क्या होगा और जवाब क्या आएगा और फिर शुन्य में तकते हुए जैसे कहीं खो गया…..  उसके नंगे बदन के शॉट्स फिल्म स्लाइड्स की तरह मेरी आँखों के सामने से गुजरने लगे… अनजाने में अपने आप ही मेरा हाथ मेरे बॉक्सर में चले गए… लोहे के रोड की तरह खड़े लौड़े को मैंने पकड़ा… वो सख्त था, मोटा था, इसतरह से सीधा और लम्बा खड़ा था जैसे उसके नंगे बदन को सलामी दे रहा हो.
मैं नीना को बुरी तरह से चोदना चाहता था… मगर सच बताऊ तो इस वक़्त उसने मेरी हालत पतली कर दी थी. मैं तो उसे तब चोदुंगा जब वो मिलेगी वो जैसे मुझे अभी चोद रही थी, मेरी हालत ख़राब कर रही थी.
दरवाज़े की घंटी बजी.
चाइनिस खाना आ चुका था. मैंने पेमेंट करके ले लिया और कोफ़ी टेबल पर रख दिया. फ्रिज से बियर का कैन निकाला. भूख गायब हो चुकी थी.. सिर्फ पेट भरने के लिए खा रहा था.  (…मैं उसकी स्वादिष्ट चूत खाना चाहता था, नहीं की ये स्वादरहित चाइनिस खाना !!!!)      
ज़िन्दगी में वक़्त का राज चलता है. वक़्त राजा है. वक़्त आपको आसमान की बुलंदियों पर लेके जा सकता है और वक़्त ही आपको समंदर की गहराईयों में डुबो सकता है. अगर आपका वक़्त अच्छा है तो दुनिया आपके सामने झुकेगी और अगर आपका वक़्त बुरा है तो आपको भीख देने के लिए भी कोई तैयार नहीं होगा.
आखिरकार, फ़ोन को देखते हुए ( …जाहिर है, चोदने के मेसेज के इंतज़ार में )  मैंने खाना ख़त्म किया. डिनर के बाद आँख बंद करके मैं सोफे पर लेता हुआ था. ( …नीना को चोदने का ख्वाब देख रहा था.)
अचानक सेल फ़ोन ठनठनाया – मैंने लपककर कॉफ़ी टेबल से फ़ोन लिया.
नीना का मेसेज था. “ हेय जोनी, इस वक़्त मैं थोड़ी व्यस्त हूँ.  11 बजे मैं कॉल करुँगी. थैंक्स -नीना “
वो चूत चुदवाने के लिए तैयार थी. अब मुझे सेक्सी कहानी लिखने से कोई नहीं रोक सकता.
जैसे मेरे चेहरे पर नूर आया… जैसे मेरी जान में जान आ गई.
“ या… हु… ” फ़ोन को हथेली में दबाते हुए मैंने अपनी भावनाओं को अभिव्यक्त किया.
मैंने सेल फ़ोन पर घडी को देखा – 8:00 बजे थे.
अभी भी तीन घंटे बाकी थे. इंतज़ार करना मेरे बस की बात कभी नहीं रही है. मगर… करना ही पड़ेगा… चूत चुदाई की सेक्सी कहानी जो लिखनी है!
दोस्तों, फ़ोन आते ही मैं तो चोदने का प्रोग्राम बनाऊंगा. जब तक चूत चुदाई की कोई नई सेक्सी कहानी लेके लौटू, तब तक आप जिसको भी चोदते है उसको चोदते रहिते और जिससे भी चुद्वाते है उससे चुद्वाते रहिए…

Saturday, 24 September 2016

दर्द भरे शायरी

दर्द भरे शायरी


उठी जो शर्द हवा रोज बरस गया पानी
आह भरके सावन की गुजर गयी जवानी ..!

 गम ए आरजू तेरी आह में, शब् ए आरजू तेरी चाह में
जो उजड़ गया वो बसा नही और जो बिछड़ गया वो मिला नही ..!!


लगती है जिसके दिल पर, वो आँखों से नही रोते
जो अपनों के ही न हो पाए, वो किसी के नही होते ..!!


 मौत सिर्फ नाम से बदनाम है, वरना तकलीफ तो जिन्दगी ही ज्यादा देती है.. 
और स्त्री (वीवी ) सिर्फ नाम से बदनाम है, वरना तकलीफ में वही साथ देती है ...!!


 खवाब एक, मुश्किलें हज़ार हैं
तन्हाई और गम मेरे जीवन भर के यार हैं
अब तो दिल मौत के लिए भी तैयार है
क्यूँकि इस जीवन मे सिर्फ़ एक बेवफा से प्यार है..!!
Image may contain: 2 people, people standing and wedding


जुल्म इतना भी न कर की लोग कहे तुझे दुश्मन मेरा
क्यूंकि हमने जमाने को तुजे अपनी जान बता रखा है !!


 हमें मालूम था अंजाम इश्क का लेकिन
जवानी जोश पर थी जिन्दगी बर्बाद कर बैठी ..!!


 दिल का जख्म कैसे दिखाऊ किसी को यारों,
मरहम की जगह सब नमक लगाते है ..!!


 यदि रुठा हो प्यार तो मनाने मेँ क्या जाता है,
यही प्यार है यारोँ इसके हर ढंग मेँ मजा आता है.!!


 हंसो इतना कि तेरी हंसी पे सारा जमाना रो दे
रोना इतना कि आँसुओं की बाढ़ में वो सब कुछ खो दे.!


 गमें इश्क में आपके चूर होकर
तड़पता है दिल मेरा मजबूर होकर ..!!


 संगीत सुनकर ज्ञान नहीं मिलता
 मंदिर जा कर भगवान नहीं मिलता
 पत्थर तो इसलिए पूजते हैं लोग
 क्यूँ कि विश्वास के लायक इंसान नहीं मिलता !!


 रास्ते खुद ही तबाही के निकाले हम ने
 कर दिया दिल किसी पत्थर के हवाले हमने
 हाँ ! मालूम हैं क्या चीज़ हैं मुहब्बत यारो
अपना ही घर जल कर देखें हैं उजाले हमने..!



 आँखों के सागर में ये जलन हैं कैसी
आज दिल को तड़पने की लगन हैं कैसी
बर्फ की तरह पिघल जायेगी जिंदगी
ये तेरी दूर रहने की कसम हैं कैसी....!


 रोया है बहुत तब जरा करार मिला है
 इस जहाँ में किसे भला सच्चा प्यार मिला है
 गुजर रही है जिंदगी इम्तिहान के दौर से
 एक ख़तम तो दूसरा तैयार मिला है..!


 रोने से किसी को पाया नहीं जाता
खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता
यादें तो रहती है हमेशा ही ताज़ी
चाहे जिन्दगी में जितनी भी हो बर्बादी ..!
Image may contain: 1 person, text


जख्म जब मेरे सीने के भर जायेंगें
आसूं भी मोती बन कर बिखर जायेंगें
ये मत पूछना किस-किस ने धोखा दिया
वर्ना कुछ अपनों के चेहरे उतर जायेंगें..!


 दर्द हैं दिल मैं पर इसका ऐहसास नहीं होता
रोता हैं दिल जब वो पास नहीं होता
बरबाद हो गए हम उनकी मोहब्बत मैं
और वो कहते हैं कि इस तरह प्यार नहीं होता...!!




 तुमने आंसू ही दिये हैं हमेशा इन आँखों को
आज कुछ पल के लिए इन होंठो को मुस्काने दो..!


आज भी तलाशती है नजरे प्रेम से लबालब उस कश्ती को ,
हमारे ही कमी से जो डूब गयी थी शक के नदी में ..!!


 सोचते हैं अक्सर तन्हाई में रहके
क्या मिला हमें परछाई में रहके
मोहब्बत करके भी कुछ हासिल न हुआ
बस तड़पते है हर पल रुसवाई में रहके..!!


रोने से किसी को पाया नहीं जाता 
खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता
यादें तो रहती है हमेशा ही ताज़ी
चाहे जिन्दगी में जितनी भी हो बर्बादी ..!

दोस्तों मै अभी जाती हूँ पुनः मुलाकात होगी
आप पंक्ति पे गौर करे दर्द ए प्यार का एहसास होगी ..!
उसने कहा था आँखे भर देखा करो मुझे लेकिन
जब आँखे भर आती है तो वो नज़र नही आते ...!




अब कुछ अच्छा नही लगता ये क्या हो गया मुझे
शायद किसी अजनबी की बददुआ लग गयी मुझे ...!


 कहते है लोग हमारे समाज में असीम प्यार है
देखना आज है मुझको इस पर कितनो को एतबार है ...!


 मन में जिनके औरतो के लिए कोई सम्मान नही
उनका आस पास भटकना कोई खतरे से कम नही ...!


 दिल के दर्द जल्दी जुबा पे आते नही 
शराब के जुबा पे लगते ही अन्दर रह पते नही ...!


 मोहब्बत की हवा जिस्म की दवा बन गयी
आपसे दुरी मेरे चाहत की सजा बन गयी
अब कैसे भुलाऊ आपको एक पल के लिए
आपकी याद हमारी जीने की वजह बन गयी ...!

 शीशे के तौह्फे न देना किसी को लोग तोड़ दिया करते है
बहुत ख़ूबसूरत हो जो
उनसे कभी मोहब्बत न करना
अक्सर खूबसूरती में मगरूर लोग ही दिल को तोड़ दिया करते है ...!


क्या करे तुमसे दूर जाने का मेरा कोई इरादा नही था
लेकिन हालात ने बिछड़ने के लिए मजबूर कर दिया था ..!




लगी खन्जर दिल पर तो दर्द उतनी न हुई
जितनी दर्द उनके हाथ में खन्जर देख हुई..!


 किसी के दर्द को तुम अपना बना के देखो
बद्दुआओ की जगह दिल से दुआए निकलेगी ..!


कुछ तो हवा भी सर्द थी कुछ था तेरा ख्याल भी
दिल को खुसी के साथ साथ होता रहा मलाल भी
सब कुछ मेरे पास था पर तू न मेरे पास थी
तेरे यादो के सहारे कटी वो कैसे रात थी.....!

 क्या हुआ गरीबी के कपड़े से ढके है जो मेरे तन
अमीरों से ज्यादा और गंगा से निर्मल है मेरे मन ...!

 क्यू कहूँ ये आजकल अपने दिन खराब हैं
बस उलझ गये हैं काटों में समझ लो गुलाब हैं...!

शिकायत तो नही लेकिन इतना जरुर पूछना चाहती हूँ जमाने से
आखिर वो क्या करे जो जमाने के ही जुल्म से मजबूर हो जाये ...!

ए ज़िन्दगी ढूँढ कोई बिछड़ गया है मुझसे
गर वो न मिला तो "सुन" तुझे भी ख़ुदा हफ़ीज़..!

__सुना है चाहने वाले तो मुक़द्दर से मिला करते है
__________फिर उसे इस बात की तकलीफ़ क्यों,
उसके जिन्दगी से मेरे चले जाने के बाद...!


 जब नाम तेरा प्यार से लिखती हैं उँगलियाँ
मेरी तरफ ज़माने कि उठती है उँगलियाँ. !

 थे अकेले हम तो खुले थे हजारो रास्ते ,
बंद कर लिए मैंने ख़ुद सनम तेरे वास्ते ..!

Shayari





एक आरज़ू सी दिल में अक्सर छुपाये फिरता हूँ
प्यार करता हूँ तुझसे पर कहने से डरता हूँ
कही नाराज़ न हो जाओ मेरी गुस्ताखी से तुम
इसलिए खामोश रहके भी तेरी धडकनों को सुना करता हूँ ...!
******************************************************


दीवाने है तेरे नाम के इस बात से इंकार नही
कैसे कहे तुमसे प्यार नही कुछ तो कसूर है आपकी
आँखों का अकेले तो गुनाहगार नही ...!
************************************

खोया हूँ तुम्हारे ख्यालो में जमाने का कोई होश नही
न समझो मुझे तुम दीवाना इतना भी मै मदहोश नही
चला तेरा जादू कुछ ऐसा धड़कन मेरी खामोश नही
नज़रे बन गई अब तेरी मुहमे इनका आधोश नही ...!
***********************************************


 फूल से किसी ने पूछा, तू ने सब को खुश्बू दी
पर तुझे क्या मिला, फूल ने कहा :
देना लेना तो व्यापार है, जो देकर कुछ ना माँगे,
वो प्यार है..........!!
*****************************************


 कोई नजरो से इशारा कर लेता है
कोई आँखों से कुछ कह देता है
बड़ा ही मुश्किल हो जाता है जबाब देना
जब कोई इंग्लिश में कुछ लिख देता है ..!!
****************************************


आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी..!!
*************************************


 जा सकी ना मै दूर और वो आये ना करीब ,
मेहरबान कैसे हो जाता मेरी मुहब्बत पर मेरा नसीब ..!!
*******************************************


बिन देखे तेरी तस्वीर बना सकते है
बिन मिले तेरा हल बता सकते है
हमारे प्यार में इतना दम है कि
तेरे आँसू अपनी आँखों से गिरा सकते है ..!
********************************************



बहुत खूबसूरत है आँखे तुम्हारी
इन्हें बना दो किस्मत हमारी
हमे नही चाहिए ज़माने कि खुशियाँ
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी ...!
*************************************


आपकी जुदाई भी हमे प्यार करती है
आपकी यादे भी हमे बेक़रार करती है
जाते जाते कही भी हो जाए मुलाकात आपसे
तलास आपको ये नज़र बार बार करती है ...!
*****************************************


वो आपका पलके झुका के मुस्कुराना
वो आपका नज़रे झुका के शर्मना
वैसे आपको पता है या नही हमे पता नही
पर इस दिल को मिल गया उसका नजराना ..!
******************************************


गुज़र रहे है आज इश्क के उस मुकाम से
नफरत सी हो गयी है मोहब्बत के नाम से
*****************************************


माना कि मर जाने पर भुला दिए जाते है लोग ज़माने में
पर मै अभी जिन्दा हूँ फिर कैसे उसने मुझे भुला दिया ...!
**********************************************


तुम्हारी जिद बेमानी है दिल ने हार कब मानी है
कर ही लेगा एक दिन बश में तुम्हे आदत इसकी पुरानी है ...!!
***************************************************


मैंने अपनी हर एक साँस तुम्हारी गुलाम कर रखी है
लोगो ने ये जिन्दगी बदनाम कर राखी है
अब ये आइना भी किस काम का मेरे
मैंने तो अपनी परछाई भी तुम्हारे नाम कर रखी है ..!
**********************************************


तेरी आवाज कि शहनाइयों से प्यार करते है
तस्सबुर मई तेरे तनहाइयों से प्यार करते है
जो मेरे नाम से तेरे नाम को जोड़े ज़माने वाले
अव हम उन चर्चो से भी प्यार करते है ..!
*******************************************



 जो बात आज तक मै कह न सकी लो आज वो सबके सामने कहती हूँ
जो चेहरा तुम आईने में रोज देखते हो उसी से प्यार मै करती हूँ ...!
*********************************************************


 छुपके जो उनसे मिलती रही तो दोष क्या हमारा
कुछ अपनी जरूरत और कुछ होता उनका इशारा ...!
***********************************************



रहो मेरी जुल्फों के साये में आज तुम रहो
और टूट के मुझे प्यार करो
आज मै मै न रहूँ आज मै तुम हो जाऊ
अपने प्यार से ऐसा मेरा श्रृंगार करो ...!
****************************************

 एक दीवाने की जव निकली दिल की बात
दर्द को मिला पी गया पानी के साथ...रिया ..!
*****************************
मै तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती
मै जवाब बनता अगर तू सवाल होती
सब जानते है मैं नशा नही करता,
मगर मै भी पी लेता अगर तू शराब होती....!
************************************


♥ ♥ आँखों से देखा दिल से दुहाई नजर की कीमत हमने चुकाई ♥ ♥
♥ ♥ एक कमी थी जो मेरे दिल के महल में उसमे तेरी तस्वीर लगाई ..! ♥ ♥
************************************************************

 मेरे अपने जिन्दगी का यही एक वसूल है
जब तू कबूल है तो तेरा सब कुछ कबूल है ...!
************************************

घर से बाहर कोलेज जाने के लिए वो नकाब मे निकली
सारी गली उनके पीछे निकली
इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली……!

Thursday, 22 September 2016


Daljeet Kaur likes this Pin.6d
Himani likes this Pin.8d
Hansa Patel likes this Pin.13d
Amit Manohar Mardane likes this Pin.2w
Pooja Bansal likes this Pin.2w
ane b likes this Pin.2w
Shrenik Rayka likes this Pin.3w
Sameer Tambe likes this Pin.3w
PS J likes this Pin.3w
Aarzoo Koundal likes this Pin.3w
jyo singh likes this Pin.3w
Aarzoo Koundal likes this Pin.3w
Madhvi Markam likes this Pin.4w
Aslam Memon likes this Pin.4w
Himmat Rathod likes this Pin.4w

तेरी चाहत अब मेरी आँखों में है

तेरी चाहत अब मेरी आँखों में है  Jaan Dene Ko Pahoche Tha Sab Teri Gali Main  Jab Kutta Picha Pada To Kisi Ne Palat Nahi Dekh...